Internet क्या है – इसके क्या फायदे होते हैं ?

Internet क्या है इसके क्या क्या फायदे होते हैं तथा इसके क्या क्या नुकसान है तथा यह कहां-कहां उपयोग में लाया जाता है अगर आप जैसे सवालों का जवाब ढूंढ रहे हैं तो आप बिल्कुल सही जगह हैं क्योंकि हम आपको इंटरनेट से जुड़ी हुई पूरी जानकारी आपको इस पोस्ट में देने वाले हैं तो आप इस पोस्ट को शुरू से आखिर तक पूरा पड़ेगा तभी आप लोगों को इंटरनेट के बारे में पूरी जानकारी मिल पाएगी ।

आप लोगों ने फेसबुक तो जरूर चलाया होगा या मैं बोल सकता हूं कि अभी जब आपकी आर्टिकल पर हैं तो भी आप लोग इंटरनेट का उपयोग कर रहे हैं तो आप लोग जानते हैं कि इंटरनेट का क्या क्या उपयोग होते हैं क्या है क्या नहीं जानते तो देना करते हुए जानते हैं

Internet क्या है?

इंफॉर्मेशन या सूचनाओं को उनको आदान प्रदान करने के लिए पूरे विश्व के कंप्यूटर को एक नेटवर्क के जरिए जोड़ा जाता है जिस नेटवर्क में सभी कंप्यूटर आपस में जुड़े रहते हैं या नहीं अगर आसान भाषा में कहे तो यह एक इंटरनेशनल नेटवर्क होता है जिससे आपस में सभी कंप्यूटर नेटवर्क के जरिए जुड़े रहते हैं जहां पर सूचनाओं को एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में या फिर पूरे विश्व भर में भेज सकते हैं इसको ही इंटरनेट कहते हैं|

इंटरनेट का इतिहास क्या है ?या फिर इंटरनेट को कब बनाया गया ? या इंटरनेट पहली बार किसके द्वारा यूज़ किया गया था?

इंटरनेट का इतिहास सबसे पहले इंटरनेट की शुरुआत अमेरिकी सेना के द्वारा पेंटागन अमेरिका के रक्षा विभाग के द्वारा की गई थी 1969 में ARPA या नहीं एडवांस रिसर्च प्रोजेक्ट एजेंसी नाम का एक प्रोजेक्ट लांच किया गया था यह उस समय की बात है

जब अमेरिका और रूस जैसे बड़े देशों पर परमाणु बम  का खतरा बना हुआ था अगर किसी ने अटैक कर दिया तब उससे निकलने वाली विकिरण उससे पूरे देश का यह पूरे देश की संचार व्यवस्था पूरी तरीके से ठप हो जाती| तब इस चीज को नजर में रखते हुए अमेरिकी सेना के द्वारा एक ऐसा प्रोजेक्ट लांच किया गया जिसमें किसी भी इंफॉर्मेशन को बिल्कुल गुप्त रूप से एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में या फिर एक जगह से दूसरी जगह पर आसानी से और जल्दी भेजा जा सके

जिससे उस देश के बड़े राष्ट्रपति या प्रधानमंत्री के द्वारा दिए गए आदेश को बिल्कुल गुप्त रूप से सेना अध्यक्ष के पास या फिर अन्य लोगों के पास आसानी से और जल्दी पहुंच सके परंतु इंटरनेट को बनाते समय इस बात का जरूर ध्यान रखा गया कि यदि किसी देश के किसी भी हिस्से पर बहुत बड़ा हमला होता है तब अन्य कंप्यूटर के बीच जो संचार व्यवस्था चल रही  है

उसको बिना प्रति बाधित किए वह संचार व्यवस्था अच्छी तरह से और तेज तरह से चलते रहे जिसके बाद इस संचार के पूरे सिस्टम को और अर्पानेट के नाम दिया गया था या नहीं कि अमेरिकी सेना और ARPA एडवांस रिसर्च प्रोजेक्ट एजेंसी दोनों के द्वारा मिलकर के एक ऐसा नेटवर्क बनाया गया जिसमें इंफॉर्मेशन को गुप्त तरीके से एक जगह से दूसरे जगह तक आसानी से भेज सकें |

उसके बाद कुछ समय के बाद अरपा नेट को इंटरनेट के नाम से जाना जाने लगा अमेरिकी देश पर परमाणु हमले का खतरा खत्म होने के बाद अमेरिका ने इस सिस्टम को या फिर इस पूरे नेटवर्क के सिस्टम को साल 1980 में नेशनल साइंस फाउंडेशन को दे दिया NSF ने  कुछ हाई स्पीड कंप्यूटर को जोड़कर एक नेटवर्क तैयार कर दिया था 1990 तक इसको इंटरनेट के नाम से जाना जाने लग गया था दोस्तों आपके मन में यह सवाल जरूर उठता होगा कि

भारत में इंटरनेट कब आया?

आपके इस प्रश्न का जवाब हम नीचे देने वाले हैं

हमारे देश में 1980 में इंटरनेट की शुरुआत हुई थी परंतु भारत में इंटरनेट 15 अगस्त 1995 में पहली बार इस्तेमाल  हुआ था 15 अगस्त 1995 में पहली बार इंटरनेट को भारत में उपयोग में लाया गया|

Read Now : Love Calculator Online

और उसके बाद यह बी एस एन एल को दिया गया या भारत की विदेश संचार निगम लिमिटेड VSNL एक संस्था थी जिसमें शुरुआत में भारत में 20 से 30 कंप्यूटर को इस नेटवर्क के जरिए जोड़ा गया था जिसके बाद इसको भारत में चल रहे और नेटवर्क जैसे :-एयरटेल, आइडिया , HUTCH इन सभी मोबाइल नेटवर्क प्रोवाइडर को दे दिया गया| ताकि पूरे भारत में हर जगह यह नेटवर्क का उपयोग कर सकें|

इंटरनेट का उपयोग सबसे पहले किन के द्वारा किया गया था?

सबसे पहले vinton gray cref और bob kanh नाम के दो लोगों के द्वारा इंटरनेट की शुरुआत की गई थी इसीलिए इनको इंटरनेट का जनक भी कहा जाता है|

अब हम जाने वाले हैं कि इंटरनेट के फायदे और नुकसान क्या क्या है ?या फिर आप यह कह सकते हैं कि इंटरनेट के एडवांटेज और डिसएडवांटेज क्या-क्या है? इन सभी चीजों के बारे में हम जाने वाले हैं

इंटरनेट के क्या फायदे होते हैं :-

1- इंटरनेट के द्वारा हम घर बैठे ही किसी भी प्रकार का बिल ऑनलाइन के माध्यम से जमा कर सकते हैं चाहे वह बिल बिजली पानी या फिर घर का बिल या फिर किसी भी प्रकार के बिल हो सकते हैं चाहे  आप ऑनलाइन शॉपिंग  का भी  बिल पेमेंट उसे आप घर बैठे मोबाइल के द्वारा आया कंप्यूटर लैपटॉप के द्वारा इंटरनेट के माध्यम से आसानी से जमा कर सकते हैं|

2- इंटरनेट के माध्यम से आप पूरे संसार के किसी भी जगह है से आप किसी भी जगह तक सूचना को आसानी से भेज सकते हैं साथ ही सूचनाओं के साथ आप अपने डाटाबेस को भी आसानी से भेज सकते हैं जैसे फोटोस वीडियोस अपनी लोकेशन और बहुत सी चीज है जिनको आप एक जगह से दूसरे जगह  बहुत तेजी से भेज सकते हैं|

3- इंटरनेट के द्वारा आप मैसेज ,वॉइस कॉल ,वीडियो कॉल जैसे बहुत सारी चीजें आप इंटरनेट के माध्यम से कर सकते हैं|

4- ऐसी बहुत सारी कंपनियां हैं जहां पर आप ऑनलाइन इंटरनेट के माध्यम से कार्य करते हैं|

5- इंटरनेट पर ऐसी बहुत सारी वेबसाइट उपलब्ध है जहां पर आपको जॉब से रिलेटेड सारी जानकारी मिलती रहती है और ऑनलाइन आप उस जॉब के लिए अप्लाई भी कर सकते हैं|

6- शिक्षा के क्षेत्र में इंटरनेट पर ऐसी बहुत सारी वेबसाइट है या फिर ऐसे बहुत सारे ब्लॉक्स मौजूद हैं जिनको आप पढ़ करके अपनी जानकारी या फिर अपनी नॉलेज को बढ़ा सकते हैं|

7- रिजल्ट को आप आसानी से घर बैठे ही इंटरनेट के माध्यम से देख सकते हैं|

8- ईमेल के द्वारा आप किसी को भी मैसेज या ईमेल कर सकते हैं|

9- इंटरनेट पर आप अपने व्यापार को बहुत बड़ा सकते हैं जय से यदि आप फेसबुक यूज करते हैं तब अपने काम से रिलेटेड अपने काम का advertisement फेसबुक पर करा सकते हैं या फिर ऐसी बहुत सारी जगह है जहां पर आप अपना व्यापार का एडवर्टाइजमेंट करा सकते हैं और व्यापार को बढ़ा सकते हैं|

10- इंटरनेट के माध्यम से आप पैसे भी कमा सकते हैं|

11- यदि आपको वीडियो देखना हो फोटो देखना हो या फिर किसी भी प्रकार का गाना सुना ना हो या किसी भी प्रकार का मनोरंजन से रिलेटेड सभी चीजें आपको इंटरनेट पर उपलब्ध मिलती हैं |

12 इंटरनेट के माध्यम से आप कई सारे ऑनलाइन गेम्स भी खेल सकते हैं ऐसे बहुत सारे गेम्स होते हैं जिनको ऑनलाइन प्लेटफॉर्म चाहिए होता है जो इंटरनेट के द्वारा चलते हैं|

हम हम जानने वाले हैं कि इंटरनेट के द्वारा क्या हानियां हो सकती हैं या फिर इसकी क्या नुकसान है?

Internet का क्या नुकसान है?

1 -दोस्तों आप सभी लोग इंटरनेट का उपयोग करते हैं जिसमें आप इंटरनेट पैक अपने सर्विस प्रोवाइडर या फिर नेटवर्क प्रोवाइडर से कुछ पैसे देकर इंटरनेट पैक को लाइक करते हैं परंतु आप में से बहुत सारे लोग ऐसे भी होते हैं

जो इंटरनेट पैक मैं दिए गए एमबी को पूरी तरह से उपयोग नहीं कर पाते ऐसे बहुत सारे लोग होते हैं जो अपने काम में बिजी रहते हैं परंतु वह अपने इंटरनेट के एमबी को पूर्ण तरीके से उपयोग नहीं कर पाते अर्थात हुआ डाटा आपका बेकार चला जाता है जिस के बदले आप पैसे देते हैं|

2 – इंटरनेट पर ऐसी बहुत सी पोर्न वेबसाइट है जो अश्लीलता को बढ़ावा देती हैं और बच्चों के लिए बहुत ही नुकसानदायक होती हैं और कम उम्र के बच्चों को गलत शिक्षा मिलती है जिसके चलते बहुत सारे क्राइम भी बढ़ते रहते हैं हम उम्मीद करते हैं कि देश की सरकार के द्वारा ऐसी वेबसाइटों पर जरूर प्रतिबंध लगे जिससे हमारे देश के लोग इन चीजों पर अपना समय बर्बाद ना करें|

3- दोस्तों इंटरनेट के आने से हाथ की सुविधाएं जितनी आसान हुई है उतनी ही जोखिम भरी भी है यदि आप बैंक से रिलेटेड चीजें आप ऑनलाइन या इंटरनेट के माध्यम से सभी कार्य करते हैं तब आपके अकाउंट को है कर्ज के जरिए भी बहुत सारा खतरा रहता है यदि आपने अपनी ऑनलाइन बैंकिंग से रिलेटेड कुछ चीजें शेयर कर दिए तब आपको बहुत सारा नुकसान झेलना पड़ सकता है इसलिए आप कभी भी अपने ऑनलाइन बैंकिंग से रिलेटेड किसी भी जानकारी को किसी को शेयर ना करें|

4- हमारी युवा पीढ़ी इंटरनेट पर अपना बहुत समय बर्बाद कर रही है जिसमें वह कई सारे गेम खेलते हैं और मनोरंजन की चीजें खेलते हैं जिसके बाद वह अपना महत्वपूर्ण समय ज्यादा से ज्यादा इन चीजों में बर्बाद कर रहे हैं||

5- इंटरनेट के माध्यम से ऐसे बहुत सारे भड़काऊ भाषणों को या फेल जाति विशेष आदि बहुत सारी भड़काने वाली पोस्ट है इन सभी चीजों को शेयर किया जा रहा है जिसके बाद से देश में हिंसा बढ़ सकती है यह भी एक इंटरनेट क्या नुकसान है|

6- इंटरनेट के आने के बाद सोशल क्राइम बहुत ज्यादा बढ़ गया है यह भी एक नुकसान है|

7- ऐसी बहुत सारी कंपनियां है जहां पर आप अपना अकाउंट रजिस्टर्ड करते हैं तो वह आपके बेसिक डाटा को बेचती भी हैं और साथ में शेयर भी करती हैं जो आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है|

8-इंटरनेट पर ऐसी बहुत सारी वेबसाइट उपलब्ध है जहां पर आप अगर विजिट करते हैं या फिर उन वेबसाइटों को खोलते हैं तो आपके कंप्यूटर या फिर लैपटॉप में बहुत सारे वायरस आ जाते हैं जिससे आपका कंप्यूटर या लैपटॉप हैक हो सकता है और आपकी सारी जानकारी उस हैकर्स के पास जा सकती है इसलिए आप हमेशा ही अपने कंप्यूटर में अच्छा एंटीवायरस को जरूर रखें|

WWW की फुल फॉर्म क्या है?

www की फुल फॉर्म World Wide Web है वर्ल्ड वाइड वेब की खोज के बाद इंटरनेट को एक नई दिशा दी गई और इस क्षेत्र में काफी ज्यादा विकास होने लगा|

एजुकेशन सिस्टम को बढ़ावा देने के लिए या रिसर्च संबंधी सूचनाओं का आदान प्रदान करने के लिए 1 नेशनल रिसर्च एंड एजुकेशन नेटवर्क की स्थापना की गई थी

Read Now : Top 5 तरीके Facebook से पैसे कैसे कमाए ?

आज के जमाने में अगर नेटवर्किंग की बात आती है तो इंटरनेट हर जगह यूज किया जाता है उदाहरण के तौर पर आप इंटरनेट बैंकिंग के बारे में भी जान सकते हैं इंटरनेट बैंकिंग क्या होता है आइए इंटरनेट बैंकिंग के बारे में कुछ बेसिक जानकारी लेते हैं

Internet Banking क्या है?

दोस्तों आपको जैसे नाम से ही अंदाजा हो गया होगा कि इंटरनेट बैंकिंग क्या होती है बैंकिंग की सारी फैसिलिटी इंटरनेट के द्वारा आप कर सकते हैं सरल भाषा में कहें तो आप को बैंक जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी आप अपने घर बैठे ही इंटरनेट के उपयोग से अपने अकाउंट को आवश्यकता के अनुसार संचालित कर सकते हैं

जैसे यदि आपको किसी और के अकाउंट में पैसे भेजने हैं या फिर आपको किसी और से  अपने बैंक अकाउंट में पैसे मंगवाने हैं तब आप इंटरनेट बैंकिंग का उपयोग से पैसे को आसानी से एक क्लिक में भेज सकते हैं

यदि आपको अपने बैंक अकाउंट की डिटेल चाहिए कि आपके बैंक अकाउंट में कितने पैसे हैं इसकी जानकारी भी आपको आसानी से मिल जाएगी यदि आपको ऑनलाइन पेमेंट करना है तो वह फैसिलिटी भी इंटरनेट बैंकिंग से आप कर सकते हैं

Read Now : JioMeet क्या है ? तथा इसके फायदे।

ऑनलाइन शॉपिंग अगर आप करते हैं तो उसके बिल का पेमेंट भी आप बैंकिंग के इंटरनेट बैंकिंग फीचर्स के द्वारा आप कर सकते हैं और यदि आप अपना रेलवे का टिकट बुक करना चाहते हैं तो उसका पेमेंट भी इंटरनेट बैंकिंग के द्वारा आप आसानी से कर सकते हैं तो या नहीं आप आसानी से समझ गए होंगे कि इंटरनेट के द्वारा आप बैंकिंग के सभी काम जो बैंक जाकर करते थे वह काम सब आप घर बैठकर इंटरनेट के माध्यम से कर सकते हैं

यही इंटरनेट बैंकिंग कहलाता है इसके अलावा ऐसे बहुत सारे कार्य हैं जैसे मोबाइल रिचार्ज या फिर डीटीएच रिचार्ज या फिर अपने टेलीफोन का बिल पेमेंट और अपने बिजली का बिल का पेमेंट पानी के बिल का पेमेंट घर का पेमेंट ऐसी बहुत सारी चीजें आप इंटरनेट बैंकिंग के द्वारा कर सकते हैं|

आप इंटरनेट बैंकिंग की सुविधा कैसे ले सकते हैं?

दोस्तों यदि आपका बैंक अकाउंट चाहे पुराना हो या फिर नया बैंक अकाउंट तो आपको इंटरनेट बैंकिंग की सुविधा दे दी जाएगी यह सभी बैंकों के द्वारा इस फैसिलिटी को दिया जाता है नेट बैंकिंग फैसिलिटी लेने के लिए या फिर इंटरनेट बैंकिंग लेने के लिए आपको बैंक की शाखा पर जाना होगा

जहां पर जाकर के आपको इंटरनेट बैंकिंग के लिए फॉर्म भर कर जमा करना होता है जिसके बाद आपको एक यूजर आईडी और इंटरनेट बैंकिंग का पासवर्ड एक लिफाफे में दिया जाता है जिसके बाद आप अपनी आवश्यकता के अनुसार इंटरनेट बैंकिंग के पासवर्ड को बदल भी सकते हैं|

Internet Banking के फायदे क्या है:-

1- इंटरनेट बैंकिंग की सुविधा लेने के बाद आपको बार-बार बैंक जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी आप घर बैठे ही सारा काम इंटरनेट के माध्यम से कर पाएंगे|

2-इंटरनेट बैंकिंग को यूज करने के बाद आपका काफी समय बच जाता है जिसमें आप अपने कीमती समय का उपयोग किसी अन्य कार्यों में लगा सकते हैं|

3- ऐसे बहुत सारे जगह होती हैं या फिर बहुत सारी वेबसाइट ऐसी होती हैं जहां पर यदि आप किसी भी चीज को खरीदते हैं या फिर किसी भी चीज का अगर आपको बिल जमा करना होता है तो वहां किसी थर्ड पार्टी ऐप के द्वारा पेमेंट को एक्सेप्ट नहीं करती हैं तो वहां पर आप इंटरनेट बैंकिंग के द्वारा पेमेंट को कर सकते हैं|

इंटरनेट बैंकिंग के कुछ नुकसान या फिर हानियां ?

1- यदि आप इंटरनेट बैंकिंग को यूज करते हैं तो सबसे पहले इस बात का जरूर ध्यान रखें कि आपके मोबाइल में कोई ऐसी एप्लीकेशन ना हो जो आप के डाटा को सीक्रेट तरीके से कैप्चर कर रही हो इस बात की जानकारी आप जरूर रखें किसी भी ऐप जिसके बारे में आपको जानकारी नहीं हो उस ऐप को अपने मोबाइल में ना रखे|

2- इंटरनेट बैंकिंग यूज करने से पहले आप अपने किसी परिजन या फिर किसी भी बैंक के कर्मचारी के द्वारा आप इसको चलाने के तरीके के बारे में अवश्य ही जानकारी ले लें|

3- आज के समय में ऐसे बहुत सारे फेक लोग हैं जो जिनकी नजर आपके अकाउंट पर बनी रहती है जिसके बाद वह आपको कॉल करते हैं और खुद को बैंक का कर्मचारी बताते हैं ऐसेजिसके बाद वो आपके एटीएम कार्ड से रिलेटेड जानकारी पूछते हैं बहुत सारे लोग हैं  जो इस धोखाधड़ी में  अपने बहुत सारे पैसे को गवा चुके हैं या फिर उनके अकाउंट से बहुत सारे पैसे निकाले जा चुके हैं 

तो कृपया करके किसी भी लोग को या कहीं भी किसी भी व्यक्ति को अपने एटीएम कार्ड की जानकारी कभी भी नहीं दे चाहे वह फोन करने वाला व्यक्ति अपने आप को बैंक का कर्मचारी ही क्यों ना बताएं आप कभी भी अपने बैंक अकाउंट से रिलेटेड या एटीएम से रिलेटेड किसी भी जानकारी को किसी को भी नहीं दें|

ऊपर हमने Internet Kya hai इंटरनेट कहां से आया इंटरनेट का जनक किसे कहते हैं इंटरनेट का इतिहास भारत में इंटरनेट का सर्वप्रथम कब उपयोग किया गया था इंटरनेट के क्या फायदे हैं और इंटरनेट के क्या नुकसान है इंटरनेट बैंकिंग क्या है इंटरनेट बैंकिंग के क्या फायदे हैं इंटरनेट बैंकिंग के क्या नुकसान हैं इन सभी चीजों के बारे में ऊपर हमने पड़ा उम्मीद करते हैं दोस्तों आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई होगी यदि आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई होगी तब अपने दोस्तों के साथ इस पोस्ट को जरुर शेयर करें|

Leave a Comment